Breaking News

अच्छी पहल : ‘SIMRAN’ से मिलेगी ट्रेनों की सटीक जानकारी

लाइव सिटीज डेस्क : ट्रेनों की लेट-लतीफी से परेशान लोगों के लिए भारतीय रेल लगातार कोशिश कर रही है कि कम से कम लंबी दूरी की मेल और एक्सप्रेस ट्रेन की  समयनिष्ठा बरकरार रहे. इसके लिए रेलवे द्वारा ऑनलाइन ट्रैकिंग सिस्टम का भरपूर इस्तेमाल करने का निर्णय लिया गया है. यह ‘SIMRAN’ (satellite imaging for rail navigations) तकनीक पर बेस्ड है.  इस तकनीक का इस्तेमाल देश के सभी महत्वपूर्ण स्टेशनों पर किया जाएगा.
रेलवे बोर्ड के एक अधिकारी के अनुसार नये ट्रेन ट्रैकिंग सिस्टम से सवारियों को ट्रेन की एग्जेक्ट पोजीशन का पता बहुत आसानी से चल जाएगा. खास कर कोहरे की मार में ट्रेनें सबसे ज्यादा कानपुर- इलाहाबाद- मुगलसराय-पटना के मेनलाइन  रूट में प्रभावित हो रही हैं.

www.trainenequiry.com पर लॉग इन कर के ट्रेनों की लेट-लतीफी की जानकारी ली जा सकती है.  यह सुविधा रेलवे के  (ECR) ईस्टर्न सेंट्रल रेलवे हेड क्वार्टर (बिहार) समेत सभी जोन में यह सुविधा मुहैया करा दी गई है.

इस नई तकनीक में सवारी ट्रेन से सम्बंधित सभी जानकारी जैसे ट्रेन की स्पीड, लेट रनिंग, पहुंचने वाले स्टेशन, कोच की पोजीशन या तो ऑनलाइन पा सकते हैं या 139 पर sms कर के सभी तरह की जानकारी पा सकते हैं.

सूत्रों के अनुसार SIMRAN को भारतीय रेलवे के द्वारा काफी पहले ही अप्रूव कर दिया गया था. रेलवे के कई जोन में इस इ ट्रायल बेसिस पर लागू भी किया गया था जो की काफी सफल रहा. इस सफल प्रयोग के बाद रेलवे ने इसे व्यापक पैमाने पर इस्तेमाल करने का प्लान बनाया है.

इसके अलावा रेलवे ने CBTC (communication-based train control) सिस्टम की भी शुरुआत की है.  CBTC का फ़िलहाल इस्तेमाल अस्त-व्यस्त और काफी भीड़ वाले रूट में किया जा रहा है. जिसमे ईस्टर्न सेंट्रल रेलवे भी शामिल है. इसका उपयोग घने कोहरे में हो रही ट्रेन दुर्घटनाओं को रोकने के लिए किया जा रहा है.

यह भी पढ़ें – रेलवे का कमाओ अभियान…सब कुछ बेच डालो

एक मिनट का 2 रुपया ले रहा रेलवे, फिर भी 139 पर जानकारी नहीं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *